फिल्मों, टीवी की एक्ट्रेस अनुष्का श्रीवास्तव से एक खास मुलाकात

फिल्मों, टीवी की एक्ट्रेस अनुष्का श्रीवास्तव से एक खास मुलाकात

दोस्तों चलचित्र सेंट्रल के विशेष कॉलम ‘साक्षात्कार’ में आप सभी का स्वागत है। इस कॉलम में हम आपके लिए ऐसी शख्सियत का इंटरव्यू लेकर आते हैं, जिन्होंने छोटे शहर से निकल कर मुंबई की मायानगरी तक का सफर तय किया है और अपनी प्रतिभा मेहनत के बल पर फिल्मों, धारावाहिकों में काम कर रही हैं।


इस बार हम आपकी मुलाकात फिल्मों, टीवी की मशहूर अभिनेत्री अनुष्का श्रीवास्तव से करवाने जा रहे हैं जो इन दिनों दंगल टीवी के पॉपुलर शो ‘रंजू की बेटियाँ’ में अय्यूब खान, दीपशिखा नागपाल के साथ काम कर रही हैं। मुंबई में अनुष्का श्रीवास्तव से मेरी मुलाकात इसी टीवी सीरियल की शूटिंग के दौरान हुई तो उनसे लम्बी बातचीत हुई जिसके अंश यहाँ प्रस्तुत किये जा रहे हैं।

अनुष्का श्रीवास्तव के बारे में आपको बता दें कि उन्होंने बहुत सारे टीवी धारावाहिकों में अभिनय किया है। वह बॉलीवुड फिल्म तिश्नगी में भी नजर आई हैं।

अनुष्का, फ़िल्मी दुनिया में काम करने का सपना बहुत सारी लड़कियाँ देखती हैं, आप को इस मंजिल तक पहुँचने में किन रास्तों से गुजरना पड़ा?

अनुष्का श्रीवास्तव :
देखिये, मैं मुज़फ्फरपूर बिहार की रहने वाली हूँ। लेकिन फिर हमारी फैमिली दिल्ली में सेटल हो गई। यह सच है कि बहुत से लोग सपने देखते हैं मगर कामयाबी सभी को नहीं मिलती इसलिए मैं खुद को भाग्यशाली मानती हूँ कि मुझे फिल्म और टीवी की दुनिया में काम मिल रहा है। २०१५ में दूरदर्शन पे मेरा पहला शो आया था ‘गोरी तेरा गाँव बड़ा प्यारा”। फिर उसके बाद एंड टीवी का शो किया और उसके बाद पिछले साल जी टीवी का ‘हमारी वाली गुड न्यूज़’ धारावाहिक किया। इस धारावहिक में मैंने मधु का रोल किया था जो सेकण्ड लीड रोल था। और अब रंजू की बेटियाँ मेरा चौथा शो है।

दंगल टीवी का शो रंजू की बेटियाँ में आपका किरदार किस तरह का है और इसे करके आप कितनी एक्साईटेड हैं?

अनुष्का श्रीवास्तव: मैं बहुत ज्यादा उत्साहित हूँ क्योंकि पहली बार इस शो में निगेटिव रोल कर रही हूँ। उससे पहले मैंने सभी पोजिटिव रोल किये थे। मेरे किरदार का नाम रौशनी है। वह कैसे शालू और विशेष के रिश्ते में वह दरार डालती है, इनके बीच कैसे गलतफहमियाँ पैदा करती है, इनको अलग करने के लिए वह क्या क्या करती है, इसके लिए आपको दंगल टीवी का शो रंजू की बेटियाँ देखना पड़ेगा। निगेटिव किरदार प्ले करना काफी चैलेंजिंग होता है इसलिए मुझे यह रोल करने में काफी मजा आ रहा है। पोजिटिव रोल फिर भी आसान होता है मगर नकारात्मक किरदार में काफी चुनौतियाँ होती हैं। निगेटिव किरदार को दर्शक भी बहुत चाव से देखते हैं कि यह किरदार आगे क्या करने वाली है। निगेटिव किरदार में कलाकार को मसाले से खेलने का मौका मिलता है, मेरा यह किरदार भी मसालों से भरपूर है।

इस शो के बाकी कलाकारों के साथ आपकी बोन्डिंग किस तरह की है?

अनुष्का श्रीवास्तव: विशेष का रोल करने वाले एक्टर नवीन के साथ मैंने सावधान इंडिया शो में काम किया था, उनके साथ मेरी बहुत अच्छी बोन्डिंग है। शालू का रोल कर रही मोनिका चौहान से पहली बार मिली लेकिन लगा नहीं कि पहली बार मिल रही हूँ, उनके साथ भी काम करके मजा आ रहा है। वह बहुत अच्छी को एक्ट्रेस हैं।

शो रंजू की बेटियाँ मे अपने सहकलारों के साथ अनुष्का श्रीवास्तव | Anushka Shrivastav With Her Co-Actors on the set of Ranju Ki Betiyan
शो रंजू की बेटियाँ मे अपने सहकलारों के साथ अनुष्का श्रीवास्तव


इस सीरियल में दीपशिखा नागपाल भी हैं, उनके साथ स्क्रीन शेयर करने का कैसा अनुभव रहा?

अनुष्का श्रीवास्तव: बचपन में जब मैं दीपशिखा जी को देखती थी तो लगता था कि वह बहुत खडूस किस्म की औरत होंगी मगर जब उनके साथ काम करने का मौका मिला तो मुझे बहुत ही अच्छे स्वाभाव की लगीं, और लुक तो उनका गोर्जियस है ही। इस सीरियल में दीपशिखा के किरदार के जरिये ही मेरी एंट्री होती है। वह कुछ ऐसा प्लान करती हैं कि वह रौशनी को भेजेंगी। उनसे बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

क्या आपने सीरियल में अय्यूब खान के साथ भी काम किया है?

अनुष्का श्रीवास्तव: जी हाँ, अय्यूब खान के साथ भी मेरे सीन्स हैं। उनके साथ काम करके काफी अच्छा लगा। बहुत अच्छे इन्सान हैं वह। दरअसल इस शो के सेट पर आते ही एक पोजीटिव वाइब्स आनी शुरू हो जाती है।

आपने फिल्म भी की है, फिल्म और टीवी में आप क्या फर्क महसूस करती हैं?

अनुष्का श्रीवास्तव: जी हाँ, मैंने एक फिल्म तिश्नगी में भी अभिनय किया है। फिल्म करने का एक अलग अनुभव होता है। डेली सोप में रोज़ शूटिंग करनी पड़ती है। सेट पर फैमिली जैसी बोन्डिंग बन जाती है ऐसा लगता है कि टीवी शो का सेट अपना दूसरा घर बन जाता है।

शो के डायरेक्टर के साथ वर्किंग एक्सपीरिएंस कैसा रहता है आपका?

अनुष्का श्रीवास्तव: शो के डायरेक्टर भगवान सर बहुत अच्छे हैं। एक डायरेक्टर और एक एक्टर के बीच बोन्डिंग बहुत क्लोज़ होती है। एक्टर डायरेक्टर से काफी कुछ सीखते हैं, मैं भी उनसे काफी सीख रही हूँ। मैं जब शुरू में सेट पर आई थी तो ज़ेहन में कई सवाल थे कि पता नहीं कैसे लोग मिलेंगे मगर यहाँ बहुत ही अच्छे नेचर के लोगों के साथ काम करने का मौका मिल रहा है।

इस शो में दर्शकों को आगे क्या देखने को मिलने वाला है?

अनुष्का श्रीवास्तव: दंगल टीवी के शो रंजू के बेटियाँ में बड़ा धमाका होने वाला है। शालू और विशेष की जो लव स्टोरी चल रही है उनके बीच में रौशनी आ चुकी है, लेकिन यह रौशनी यहाँ रौशन करने नहीं आ रही है बल्कि यह दोनों के रिश्ते में अँधेरा करने आ रही है। वह मिस अंडरस्टैंडिंग क्रिएट करती है। आप लोग यह शो देखें बहुत मजा आने वाला है। ड्रामा और ट्विस्ट से भरपूर है आगे के एपिसोड्स।

About गाज़ी मोईन

गाजी मोईन मुंबई में काफ़ी समय से फ़िल्मी दुनिया में बतौर गीतकार, राईटर और फ़िल्म जर्नलिस्ट एक्टिव हैं। वह कवि भी हैं और आप मुंबई सहित देश भर के कई कवि सम्मेलनों और मुशायरों में अपनी शायरी पेश करते आए हैं। ऑल इंडिया रेडियो मुम्बई पर नियमित रूप से वह अपनी रचनाएं पेश करते आए हैं। म्यूज़िक एलबम "तू ही तो था" और "शब" के लिए लिखे हुए उनके गीत काफी मक़बूल हुए हैं। सिंगर रूप कुमार राठौड़ और ग़ज़ल सिंगर सोनाली राठौड़ की आवाज़ में उनके गीत और ग़ज़लें रिकॉर्ड हैं जिन्हें रेडियो मिर्ची से प्रसारित किया गया। गाज़ी मोईन ने दूरदर्शन के कई सीरियल्स लिखे हैं, कई म्यूज़िक चैनल से जुड़े रहे हैं और फ्रीलांसर के रूप में कई अख़बारों, मैगज़ीन के लिए लिखते रहे हैं। गाज़ी मोईन मुंबई में द इंडियन परफॉर्मिंग राईट सोसाइटी लिमिटेड के मेंबर भी हैं। गाज़ी मोईन को उनके योगदान के लिए "सिनेमा आजतक अचीवमेंट अवॉर्ड" सहित कई पुरूस्कार और सम्मानों से भी नवाजा जा चुका है। इनकी 2 पुस्तकें पब्लिश हो चुकी हैं।

View all posts by गाज़ी मोईन →

Leave a Reply