रियल हीरो सोनू सूद बने ‘देश के मेंटर’

रियल हीरो सोनू सूद बने 'देश के मेंटर'

Real Hero Sonu Sood becomes ‘Desh Ke Mentor’

कोरोना काल और लॉक डाउन के दौरान बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद किसी मसीहा के रुप में उभर कर सामने आए। वह उन लोगों की मदद करने के लिए आगे आए जो उनके पास सहायता के लिए पहुँचे। सोनू सूद अपने मानवीय कार्यों के लिए व्यापक रूप से पहचाने गए। उनका सूद चैरिटी फाउंडेशन हजारों योग्य छात्रों को उनके शैक्षिक और व्यावसायिक लक्ष्यों को प्राप्त करने में हेल्प कर रहा है, चाहे वह वित्तीय सहायता के माध्यम से हो या छात्रों को पेशेवर करियर के लिए तैयार करने के अपने प्रयासों के माध्यम से। बच्चों की निरंतर स्कूली शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए, फाउंडेशन ने उन बच्चों को वित्तीय सहायता भी दी है, जिन्होंने घातक महामारी के कारण माता-पिता या अपने अभिभावक को खो दिया है।


और अब सोनू सूद दिल्ली सरकार की नई शिक्षा पहल का चेहरा भी होंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने अभिनेता सोनू सूद से मुलाकात कर इस नई और अनोखी पहल ‘देश के मेंटर्स’ पर चर्चा की, जिसे दिल्ली सरकार लॉन्च करने के लिए तैयार है।


यह कार्यक्रम दिल्ली सरकार के स्कूलों के छात्रों को एक मेंटर खोजने में मदद करेगा जो उनकी क्षमता को अनलॉक करने में सहायक सिद्ध होगा। कार्यक्रम का हिस्सा बनने के लिए साइन अप करने वाले मेंटर्स द्वारा बच्चों को उनके करियर से संबंधित सवालों के जवाब मिलेंगे।


दिल्ली सरकार को सोनू सूद के रूप में देश का मेंटर मिल गया है, जो इस कार्यक्रम के ब्रांड एंबेसडर बनने के लिए सहमत हो गए है। देश के मेंटर पहल के चेहरे के रूप में, सोनू सूद ने देश भर के नागरिकों से अपील की है कि वे आगे बढ़ें और बच्चों की शिक्षा का समर्थन करें और देश को एक उज्जवल कल की ओर ले जाएँ।


शिक्षा के क्षेत्र में दिल्ली सरकार के काम की प्रशंसा करते हुए सोनू सूद ने कहा, “मैं पिछले एक साल में दिल्ली के सरकारी स्कूलों में हुए बदलाव से प्रभावित हूँ। सभी बच्चों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा देश के उज्जवल भविष्य की कुंजी है। हमें एक साथ आने और राष्ट्र निर्माण के लिए अपने हिस्से का काम करने की जरूरत है। मैं भारत के युवाओं से ‘देश के मेंटर्स’ का हिस्सा बनने का आग्रह करता हूँ।”


सोनू सूद बच्चों की शिक्षा के प्रति उत्साही हैं और “हर हाथ में किताब” में विश्वास रखते हैं। अभिनेता के साथ उनके दोस्त करण गिल्होत्रा, प्लाक्षा विश्वविद्यालय के संस्थापक भी थे।


बता दें कि देश के मेंटर पहल एक ऐसा प्रोग्राम है जहां मेंटर्स छात्रों का मार्गदर्शन करने के लिए हर हफ्ते अपना कीमती समय निकालेंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस मौके पर कहा, ‘हमने दिल्ली के सरकारी स्कूलों को बदलने के लिए बहुत मेहनत की है।


अब हम शिक्षा को जन क्रांति बनाना चाहते हैं। जब देश भर के युवा हमारी शिक्षा क्रांति में शामिल होंगे, तो भारत को वर्ल्ड लीडर बनने से कोई नहीं रोक पाएगा। हमें सोनू सूद के साथ जुड़कर खुशी हो रही है, जिन्होंने देश भर में अपनी निस्वार्थ सेवाओं से लाखों युवाओं को प्रेरित किया है।”


सोनू सूद की इस नई जिम्मेदारी को हम सलाम करते हैं और दुआ करते हैं कि वह इसी तरह समाज हित के लिए काम करते रहें। रियल हीरो हैं सोनू सूद।

About गाज़ी मोईन

गाजी मोईन मुंबई में काफ़ी समय से फ़िल्मी दुनिया में बतौर गीतकार, राईटर और फ़िल्म जर्नलिस्ट एक्टिव हैं। वह कवि भी हैं और आप मुंबई सहित देश भर के कई कवि सम्मेलनों और मुशायरों में अपनी शायरी पेश करते आए हैं। ऑल इंडिया रेडियो मुम्बई पर नियमित रूप से वह अपनी रचनाएं पेश करते आए हैं। म्यूज़िक एलबम "तू ही तो था" और "शब" के लिए लिखे हुए उनके गीत काफी मक़बूल हुए हैं। सिंगर रूप कुमार राठौड़ और ग़ज़ल सिंगर सोनाली राठौड़ की आवाज़ में उनके गीत और ग़ज़लें रिकॉर्ड हैं जिन्हें रेडियो मिर्ची से प्रसारित किया गया। गाज़ी मोईन ने दूरदर्शन के कई सीरियल्स लिखे हैं, कई म्यूज़िक चैनल से जुड़े रहे हैं और फ्रीलांसर के रूप में कई अख़बारों, मैगज़ीन के लिए लिखते रहे हैं। गाज़ी मोईन मुंबई में द इंडियन परफॉर्मिंग राईट सोसाइटी लिमिटेड के मेंबर भी हैं। गाज़ी मोईन को उनके योगदान के लिए "सिनेमा आजतक अचीवमेंट अवॉर्ड" सहित कई पुरूस्कार और सम्मानों से भी नवाजा जा चुका है। इनकी 2 पुस्तकें पब्लिश हो चुकी हैं।

View all posts by गाज़ी मोईन →

Leave a Reply